Thursday, January 27, 2011

हास्य


हास्य गम्भीर बात कहने का एक तरीका है।
~ टी एस इलियट

2 comments:

Kajal Kumar said...

हम्म्म
इलियट ने मेरे धंधे की बात की है :)

Udan Tashtari said...

सौ प्रतिशत!