Sunday, June 21, 2009

अनुचित आलोचना



अनुचित आलोचना एक प्रकार की प्रशंसा होती है। प्राय इसका मतलब यह होता है कि लोग आपकी सफलता से जलने लगे हैं। याद रखें, कोई भी मरे कुत्ते को लात नहीं मारता।
~ डेल कार्नेगी।

1 comments:

venus kesari said...

डेल कार्नेगी को पढना हमेशा अच्छा लगता है
वीनस केसरी